राष्ट्रीय

हरियाणा में बच्चों को स्कूल ले जा रही बस पलटी, आठ बच्चों की मौत, छुट्टी के बाबजूद खुला था स्कूल

Up Namaste

नारनौल (हरियाणा)। महेंद्रगढ़ कनीना के गांव उन्हानी के पास बच्चों से भरी स्कूल बस पलटने से भीषण सड़क हादसा हो गया। इस हादसे में अब तक आठ बच्चों की मौत की पुष्टि हुई है, जबकि कई बच्चे गंभीर घायल है। घायलों को तुरंत निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। सूचना के बाद पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं।

जानकारी के मुताबिक यह हादसा चरखी दादरी से कनीना रोड पर हुआ। यह बस जी एल पब्लिक स्कूल की है। चालक बस को ओवर स्पीड से दौड़ा रहा था, बस की स्पीड मोड पर भी कम नहीं की। ओवर स्पीड में बस चालक ने पहले पेड़ को टक्कर मारी। उसके बाद बस पलट गई। बसल के पलटने से आसपास के लोग और राहगीर मौके पर जुट गए लेकिन और पलटी बस से बच्चों को निकालना शुरू कर दिया। लोगों ने जब तक बच्चों को बाहर निकाला तब तक मौके पर पांच बच्चों ने दम तोड़ दिया जबकि तीन बच्चों की अस्पताल में मौत होने की पुष्टि हो रही है।

आरोप है कि इस दौरान बस ड्राइवर धर्मेंद्र ने शराब का सेवन कर रखा था। बस ओवरटेक करते समय पेड़ से टकरा गई और पलट गई। इस हादसे में बस में बैठे बच्चे घायल भी हो गए। हादसे में घायल बच्चों को लोगों द्वारा और कुछ को एंबुलेंस द्वारा अस्पताल पहुंचाया गया। बस की रफ्तार काफी तेज बताई जाती है। वहां मौजूद लोगों ने बस चालक को काबू कर पुलिस के हवाले किया। जिसके बाद पुलिस ने बस चालक का मेडिकल करवाया। ड्राइवर ने शराब का सेवन किया हुआ था, शराब के नशे में चालक बस चला रहा था। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक अर्श वर्मा ने घटनास्थल पर पहुंचकर जायजा लिया।

इस दौरान डीएसपी मोहिंद्र सिंह और डीएसपी हरदीप सिंह भी मौजूद रहे। एसपी ने मौके पर स्थिति का जायजा लेकर अधिकारियों को निर्देश दिए कि मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई करें और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। इसके बाद एसपी ने हादसे में मृतक बच्चों के परिजनों से मुलाकात की और आश्वासन दिया कि आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। दक्षिण रेंज आईजी राजेंद्र कुमार भी कनीना पहुंचे और घटनास्थल का दौरा किया। आईजी ने कहा कि मामले की बारीकी से जांच कर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।

छुट्टी के बाद भी खुला था स्कूल, प्रधानाचार्य, सचिव को किया गिरफ्तार
पूरे देश में ईद का त्यौहार होने के कारण स्कूल कालेजों समेत सार्वजनिक अवकाश था इसके बाद भी स्कूल खोला गया। अगर स्कूल न खुला होता तो हादसा भी न होता। पुलिस ने स्कूल की प्रधानाचार्य दीप्ति वासी कनीना और सचिव होशियार सिंह कनीना को गिरफ्तार कर लिया है। बस चालक पहले से ही पुलिस की पकड़ में है।

Up Namaste

Leave a Reply

error: Content is protected !!