उझानी

घरेलू विवाद में दलित ग्रामीण ने पेड़ से लटक कर दी जान, परिवार में मचा कोहराम

उझानी,(बदायूं)। कोतवाली क्षेत्र के गांव रिनोईया में आज सुबह एक दलित ग्रामीण ने पेड़ पर फांसी का फंदा बना कर उससे लटक कर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या के पीछे घरेलू कलह बताई जा रही है। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव को अपने कब्जें में लेने के बाद उसे पीएम को भेज दिया है। मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया है।

गांव रिनोईया निवासी 45 वर्षीय प्रेमशंकर बाल्मीकि पुत्र फकीरीलाल का शव आज सुबह लगभग सात बजे गांव के समीप ही एक पेड़ से बने फंदे पर लटकता देख ग्रामीणों में सनसनी फैल गई। ग्रामीणों ने प्रेमशंकर के लटकते शव के बारे में परिजनों को सूचना दी जिससे उसके परिजन मौके पर पहुंच गए और उन्होंने पुलिस को सूचना दी। बताते हैं कि परिजनों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से शव को नीचे उतारा और उसका पंचनामा भर कर पीएम को भेज दिया। पुलिस ने प्रेमशंकर के आत्महत्या के कारणों के बारे में परिजनों से जानकारी ली तब परिजनों ने पुलिस को बताया कि उसका घरेलू विवाद चल रहा था जिसके चलते उसने आत्मघाती कदम उठा लिया। परिजनों ने पुलिस को बताया कि मृतक की पत्नी अपने बच्चों के साथ मायके में होने वाली शादी में शामिल होने गई हुई है और वह इस वक्त गांव में मौजूद नही है। परिजनों ने प्रेमशंकर की मौत की सूचना पत्नी को दी जिस पर वह अपने मायके से गांव के लिए रवाना हो गई है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!