उझानी

पशु चराने गए आधा दर्जन बच्चें कछला गंगा में डूबे, किशोर छात्र की मौत

उझानी,(बदायूं)। उझानी क्षेत्र के कछला स्थित गंगा नदी में पशु चराने गए आधा दर्जन बच्चें डूब गए। पांच बच्चें को गंगा नदी के आसपास मौजूद ग्रामीणों ने बचा लिया मगर एक किशोर की पानी में डूबने से मौत हो गई। मृतक किशोर कछला कालेज का हाईस्कूल का छात्र था। किशोर छात्र की मौत से परिवार में कोहराम मच गया।

कोतवाली क्षेत्र के गांव कोटरा सारंगपुर निवासी रिंकू का 15 वर्षीय पुत्र निशांत गांव के ही बच्चों के साथ शनिवार की सुबह लगभग 10 बजे गंगा किनारे पशु चराने गया था। बताते हैं कि पशुओं को चरने के लिए छोड़ कर सभी बच्चें नूरगंज कच्चे घाट पर नहाने के लिए गंगा नदी में उतर गए। बताते हैं कि सभी बच्चें नहाते-नहाते गहरे पानी में पहुंच कर डूबने लगे। बच्चों के शोर शराबा पर गंगा किनारे के खेतों पर मौजूद ग्रामीण उन्हें बचाने के लिए गंगा नदी में कूद गए और गंगा में डूब रहे अजय पुत्र राजकुमार, शेखर पुत्र मुगेन्द्र सिंह, भूपेन्द्र पुत्र पिकू सिंह, अखिल पुत्र सुभाष, आर्यन पुत्र सुभाष को किसी तरह से बचा लिया लेकिन निशांत गहरे पानी में समा कर डूब गया। बताते है कि निशांत के गंगा नदी में डूब जाने की सूचना पर परिजन रोते बिलखते मौके पर पहुंच गए। इस बीच किसी ग्रामीण की सूचना पर कछला चौकी पुलिस भी पहुंच गई और उसने गोताखोरों की मदद कई घंटों की मशक्कत के बाद निशांत का शव गंगा नदी से निकल सका। निशांत का शव देख कर परिजनों में कोहराम मच गया और फिर परिवार वालो ने पुलिस ने पीएम कराने से इंकार करते हुए उसका अंतिम संस्कार गंगा किनारे ही कर दिया। मृतक निशांत कछला के राधेलाल इंटर कालेज का हाईस्कूल का छात्र था।

Leave a Reply

error: Content is protected !!