Uncategorized

पर्यटन का केन्द्र बनें बदायूं के ऐतिहासिक स्थल : डीएम

बदायूं। जिलाधिकारी दीपा रंजन ने मुख्य विकास अधिकारी ऋषि राज सहित अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ शुक्रवार को कलेक्ट्रेट स्थित सभाकक्ष में पर्यटन एवं संस्कृति से संबंधित बैठक आयोजित की।

बैठक में जिला पर्यटन एवं संस्कृति परिषद का गठन हुआ जिसमें 24 सदस्य हैं। गठन का उद्देश्य है कि जनपद के विभिन्न आकर्षणों पौराणिक पुरातात्विक ऐतिहासिक तथा सांस्कृतिक धरोहरों का संरक्षण तथा संवर्धन विभिन्न पर्यटन स्थलों को प्रमुख स्थलों से जुड़े व्यक्तियों कलाकारों एवं स्थानीय समुदाय के आर्थिक विकास प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रोजगार के साधनों का सृजन तथा सांस्कृतिक धरोहरों एवं परंपराओं को अक्षुण्ण बनाए रखना जनपद के विभिन्न विशेषज्ञों को पर्यटन विकास कार्यक्रमों में सांस्कृतिक गतिविधियों से जोड़ना जागरूक करना एवं प्रचार व प्रोत्साहन करना पर्यटन एवं संस्कृति विकास में होने वाले गतिरोध एवं समस्या का चिन्हीकरण करते हुए उनका समाधान करना है।

डीएम ने निर्देश दिए कि विद्यालयों में कक्षा 6 से 8 तक युवा पर्यटन क्लब बनाया जाए। जनपद की जैविक खेती जरी जरदोजी एवं कालीन मत्स्य पालन के कार्य मेला ककोड़ा को पर्यटन में जोड़ा जाए। इनसे जुड़े लोगों की कमेटी बनाई जाए। इतिहासकारों एवं कला क्षेत्र से जुड़े हुए लोगों को भी इसमें जोड़ा जाए।

ऐतिहासिक पर्यटन स्थलों एवं संस्कृति की किताब तैयार की जाए जिससे लोगों को जनपद के बारे में विस्तार से जानकारी हो सके। डीएम ने निर्देश दिए कि लंबित कार्यों को जल्द से जल्द पूर्ण कराएं सभी कार्य मानक एवं गुणवत्ता के अनुसार किए जाएं किसी भी कार्य में कोई कमी ना हो। डीएम ने पर्यटन अधिकारी को निर्देश दिए कि पर्यटन स्थलों की सूची बनाकर विकसित करें जिससे पर्यटकों का वह आकर्षक केंद्र बन सके

Leave a Reply

error: Content is protected !!