जनपद बदायूं

दुष्कर्म का मामला दर्ज करने के बजाय पुलिस ने दोनों पक्षों में कराया फैसला

कुंवरगांव (बदायूं)। थाना क्षेत्र के एक गांव में मंगलवार रात एक युवती को बरेली के युवक के साथ आपत्तिजनक हालत में पिता द्वारा पकड़े जाने के बाद विवाद थाने पहुंचा जहां पुलिस ने दोनों पक्षों में समझौता करा कर अपना पिण्ड छुड़ा लिया ।

मिली जानकारी के अनुसार,घटना मंगलवार रात की बताई जाती है, जहां एक युवक ने पड़ोस में रहने वाली एक लड़की को स्कूल में बुला लिया और कमरे का अंदर से दरवाजा बंद कर उसके साथ दुष्कर्म किया वहीं कुछ देर बाद युवती के पिता ने खिड़की से झांककर दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया जिसके बाद पिता ने कमरे के दरबाजे में बाहर से ताला लगा दिया और गांव के लोगों को बुला लिया।

बताते हैं कि मामला एक ही समुदाय का होने के कारण मामला दबाने के लिए लड़की के पिता और गांव के लोगों ने दोनों को गांव के ही एक युवक के घर में बंद रखा और बुधवार दोपहर तक गांव में लड़के के साथ निकाह करने की बात चलती रही लेकिन जब लड़के ने यह बताया कि वह शादीशुदा है और उसके बच्चे भी हैं वह लड़की से शादी नहीं करेगा तभी मामला बिखर गया और लड़की के पिता ने डायल 112 को लडक़ी के साथ दुष्कर्म होने की सूचना दे दी।

मौके पर पहुंची पुलिस युवक को पकड़ कर थाने ले आई। युवक के परिवार को सूचना दे दी गई जहां वृहस्पतिवार सुबह युवक के परिवार वाले कुंवर गांव थाने पहुंच गए। लोगों का मानना है कि पुलिस ने दुष्कर्म की तहरीर न लेकर युवक युवती के साथ कहासुनी की तहरीर लेकर दोनों पक्षों में फैसला करा दिया।
चर्चा है कि मामला शांत करने के पुलिस ने लडक़ी के पिता को मोटी रकम भी दिलवा दी और आरोपी के साथ भी पुलिस ने आर्थिक सांठ-गांठ करली जिसके बाद आरोपी को थाने में 24 घंटे बंद रखने के बाद छोड़ दिया गया जो क्षेत्र में चर्चा कि विषय बना हुआ है ।युवक बरेली निवासी शाहरुख बताया जा रहा है ।
इस संबंध में थाना प्रभारी विनोद कुमार का कहना है कि लड़की के पिता ने इस तरह की सूचना दी थी लेकिन उसने तहरीर इस तरह की नहीं दी है अगर मामला दुष्कर्म का है तो मुकदमा दर्ज किया जाएगा ।

Leave a Reply

error: Content is protected !!