उझानी

उझानी क्षेत्र में हथियारबंद भैंस चोरों का तांडव, कई गांवों से भैसें लूटी, ग्रामीण को मारी गोली, कई की लगाई पिटाई

उझानी,(बदायूं)। मंगल/बुधवार की रात भैंस चोर गिरोह ने उझानी क्षेत्र में जमकर तांडव मचाया और हथियारों के बल पर कई गांवों से तीन भैंस लूट कर ले गए। बदमाशों ने विरोध करने वाले कई ग्रामीणों की पिटाई लगा कर घायल कर दिया वही एक ग्रामीण के गोली मार दी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल ग्रामीण को उझानी अस्पताल से जिला अस्पताल रैफर कर दिया गया है। भैंस चोरों के तांडव से पूरे क्षेत्र विशेषकर पशुपालकों में दहशत व्याप्त हो गई है।

बीती आधी रात के बाद हथियारबंद भैंस चोर गिरोह ने कोतवाली क्षेत्र के गांव बुटला दौलत में पहुंच कर वहां चल रहे जन्माष्टमी मेले के दुकानदारों को हथियारों के बल पर धमकाने के बाद गांव निवासी रामवीर यादव पुत्र सोहनपाल के घेर में बंधी भैंस लूट ली और उसे गाड़ी में मेला के मंच के जरिए गाड़ी में चढ़ा लिया। जब गांव निवासी पप्पू श्रीवास्तव नामक दुकानदार ने बदमाशों का विरोध किया तब बदमाशों ने उसे लाठी मार कर चुटैल कर दिया। इसके अलावा सियाराम नामक वृद्ध ग्रामीण के सिर पर तमंचा लगा कर चुप रहने को मजबूर कर दिया इसके बाद बदमाशों ने रामवीर के भाई ओमवीर के घेर से भैंस लूटी और उसे गाड़ी में चढ़ाने लगे लेकिन भैंस बिदक गई और वहां से भाग निकली। बदमाशों ने ओमवीर के घेर से दूसरी भैंस खोल ली लेकिन इसी दौरान ओमवीर जाग गया और बदमाशों का विरोध करने लगा तब बदमाशों ने उसे तमंचा सीधा कर दिया लेकिन ओमवीर वहां से गांव की ओर भाग निकला। ओमवीर ने अपने भाई समेत ग्रामीणों को वारदात की जानकारी दी तब सब एकत्र होकर मौके पर पहुंचे लेकिन तब तक बदमाश भैंस लूट कर भाग निकले। बदमाशों ने बुटला दौलत के बाद रात दो बजे बुटला बोर्ड पर पहुंच कर रामचंद्र पुत्र गेंदनलाल घर के बाहर बंधी भैंस खोल ली और उसे गाड़ी में चढ़ाने लगे, इस बीच बदमाशों की आहट पर रामचंद्र जाग गया और उसे बदमाशों का विरोध करते हुए ललकारा और अपनी भैंस को छुड़ाने का प्रयास करने लगा। इस दौरान उसके परिवार के अन्य लोग भी जाग गए तब हथियारबंद बदमाशों ने पहले तो रामचंद्र की लाठी डंडों से पिटाई लगाई ताकि उससे पीछा छूट सके लेकिन जब वह नही माना तब बदमाशों ने उसे तमंचा से गोली मार दी। गोली मारने के बाद बदमाश उसकी भैंस लूट कर मय गाड़ी के भाग निकले। इधर गोली लगने के बाद रामचंद्र जमीन पर गिर गया और उसके परिवार के लोगों की चीख पुकार पर ग्रामीण भी जाग कर मौके पर आ गए। ग्रामीणों ने वारदात की सूचना पुलिस को दी और रामचंद्र को लेकर उझानी अस्पताल पहुंचे जहां से उसे जिला अस्पताल रैफर कर दिया गया। वारदात के बाद पहुंची पुलिस ने बुटला बोर्ड और बुटला दौलत में पहुंच कर घटना की जानकारी ली और बदमाशों से पीड़ित लोगों से बातचीत भी की। इधर दिल्ली हाइवे पर गांव हजरतगंज में भी हथियारबंद बदमाशों ने बिजलाल पुत्र गनेश के घर से भैंस लूट ली। पीड़ित बिजलाल ने बताया कि जब उसके पशु रंभाने तब वह जागा और देखा कि उसकी भैंस मौके पर नही थी जब वह सड़क तक पहुंचा तब तक बदमाश गाड़ी लेकर भाग निकले। भैंस लूट की वारदातों के बाद सीओ उझानी शक्तिसिंह ने भी घटना स्थलों पर पहुंच कर पीड़ितों से बात कर जानकारी हासिल की। इस मामले में जानकारी करने पर प्रभारी निरीक्षक शैलेन्द्र सिंह ने बताया कि भैंस चोरी की वारदाते दो गांवों में हुई है जबकि गोली लगने वाली बात पर वह बोले कि ग्रामीण कह रहे हैं कि गोली लगी है लेकिन अभी डाक्टर उन्हें बता रहे हैं कि कुछ कहा नही जा सकता। हजरतगंज गांव में भैंस लूट की वारदात पर वह बोले कि उसे अभी दिखवा रहे हैं।
रामवीर की सूचना पर मौके पर पहुंची होती पुलिस तब पकड़े जा सकते थे बदमाश
बुटला दौलत में बदमाशों के खुलेआम तांडव और भैंस लूट की वारदात के बाद रामवीर ने एक पुलिस कर्मी को फोन कर वारदात के बारे में बताया लेकिन उसने दरोगा को फोन करने के लिए कह दिया, अगर वह पुलिस कर्मी तत्काल पुलिस टीम को बता देता तो शायद बदमाश बुटला बोर्ड पर वारदात को अंजाम नही दे पाते और पुलिस की पकड़ में आ जाते। रामवीर की माने तो लगभग आठ बदमाशों का गिरोह था जो नेकर बनियान में था और सभी बदमाश नई उमर के लड़के थे।

Leave a Reply

error: Content is protected !!