उझानीजनपद बदायूं

उझानी में हाइवे पर पांच घंटे जाम में फंसे रहे वाहन और यात्री, मंडी में मक्का की आवाक बढ़ने से लगा जाम

दो घंटा बाद पहुंची पुलिस, इसके बाद भी घंटों में खुला जाम

उझानी(बदायूं)। मंगलवार को नवीन गल्ला मंडी परिसर में एकाएक मक्का की फसल की रिकार्ड आवक आने से बरेली-मथुरा हाइवे पर टैªक्टर ट्रालियों की आपाधापी के चलते जाम लग गया। जाम के कारण परेशान नागरिकों ने मंडी समिति कार्यालय के साथ पुलिस को सूचना दी इसके बाद भी पुलिस दो घंटा बाद जाम खुलवाने पहंुची मगर वह जाम न खुलवा सकी तब नागरिकों ने कड़ी मशक्कत के बाद जाम खुलवाया। जाम के कारण भीषण गर्मी मंे यात्री और वाहन चालकों को पांच घंटे तक भारी परेशानियों से गुजरना पड़ा।

नगर के बरेली मथुरा हाइवे के बाइपाास तिराहा स्थित मंडी समिति परिसर में मंगलवार को कई दिनों की बरसात के बाद मक्का की फसल की रिकार्ड आवाक आ गई। सुबह-सुबह बड़ी संख्या में टैªक्टर ट्रालियों से मक्का की फसल लेकर आए किसानों में अपनी फसल बंेचने की होड़ लग गई। फसल बिकने के बाद उसकी तौल कराने के लिए किसानों मंे धर्मकांटा तक पहुुंचने की आपाधापी मच गई जिसके चलतेे मंडी समिति के सामने जाम लग गया। टैªक्टर ट्रालियों के एक दूसरे से आगे निकाल कर ले जाने के कारण हाइवे के दोनों ओर वाहनों की लम्बी लाइन लग गई। जाम में हाइवे पर चले वाली रोडबेज बसों, कारों एवं अन्य वाहन जहां के तहां फंस गए।

बताते हैं कि हाइवे पर लगे जाम को देख कर नागरिकों के होश उड़ गए और उन्होंने इसकी सूचना मंडी समिति तथा पुलिस को दी। बताते हैं कि मंडी समिति कर्मियों ने जाम को खुलवाने की कोशिश शुरू कर दी लेकिनन वह सफल न हो सके जिससे जाम का दायरा बढ़ता ही चला गया। बताते हैं कि कई घंटे की देरी से पहुंची पुलिस भी जाम को खुलवाने के लिए जूझती रही लेकिन वह भी जल्द सफल न हो सकी जिससे वाहनों मंे फंसे यात्री विशेष कर महिलाएं और बच्चों समेत वाहन चालकों को भीषण गर्मी में कई घंटे पसीने से तरबतर रहना पड़ा। बताते हैं कि कुछ नागरिकों ने पहल कर मंडी कर्मियों और पुलिस की मदद की तब कही जाकर तीन बजे तक जाम खुल सका और फिर यातायात सुचारू हुआ। इस मामले में जानकारी करने पर कोतवाली के वरिष्ठ उपनिरीक्षक सुमित शर्मा ने बताया कि पुलिस जाम खुलवाने में लगी रही जिससे जाम खुलवा लिया गया। इधर मंडी समिति के कर्मी राधवेन्द्र कुमार वर्मा ने बताया कि बरसात खुलने के बाद अचानक मक्का की आवाक भारी मात्रा में आ गई जिसके चलते जाम लग गया।

कांबड़ यात्रा मार्ग होने के बाद भी लाहपरवाह बने रहते हैं पुलिस कर्मी
बरेली मथुरा हाइवे उझानी में काबंड़ यात्रा का मार्ग है। गनीमत रही कि जाम का दिन शुक्र या शनिवार नही था अन्यथा कांबड़ लेकर आने वाले शिव भक्तों को भारी परेशानी हो सकती थी। बताते हैं कि काबंड़ मार्ग पर केवल तीन दिन ही पुलिस कर्मी ध्यान देते हैं इसके बाद वह लाहपरवाह हो जाते हैं जिससे जाम लगने लगता है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!