जनपद बदायूं

रेलवे स्टेशन मिठाई बेंचने वाले ने मंदबुद्धि किशोरी की दुष्कर्म के बाद हत्या, गिरफ्तार

बदायूं। फैजगंज थाना पुलिस और एसओजी की टीम ने संयुक्त रूप से मंदबुद्धि किशोरी के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या करने वाले एक युवक को बंदी बना कर मामले का खुलासा कर दिया है। किशोरी की हत्या रेलवे स्टेशन पर मिठाई विक्रेता ने की थी। पुलिस ने उसे न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।

शनिवार को अरिल नदी की कटरी में एक दलित किशोरी का शव मिलने पर पुलिस ने उसका पीएम कराया तब किशोरी के साथ दुष्कर्म होने की पुष्टि हुई और दम घुटने के कारण उसकी मौत की बात समाने आई। शव मिलने के बाद पुलिस ने किशोरी की शिनाख्त कराने के बजाय उसका शव पीएम हाउस भेजने का आरोप परिजनों ने लगाया था। किशोरी के साथ दुष्कर्म और हत्या के मामले में आरोपी की तलाश शुरू कर दी और देर रात उसे सफलता मिल गई। पुलिस ने रेलवे स्टेशन के समीप मिठाई की दुकान चलाने वाले ग्राम सादुल्लानगर रौला निवासी जितेन्द्र यादव को बंदी बना लिया। पुलिस ने उसके खिलाफ भादवि की धारा 376(3)/302 एवं पाक्सो एक्ट की धारा 5/6 एवं अनुसूचित जाति अत्याचार निवारण अधिनियम की धारा 3(2)(5) के तहत कार्यवाही करते हुए उसे जेल भेज दिया है।

आरोपी जितेन्द्र ने पुलिस को बताया कि गुरुवार रात बारिश के बीच स्टेशन पर घूम रही किशोरी को खाने का लालच देकर बुलाया और अपने साथ अरिल नदी की कटरी में मुख्य मार्ग से लगभग 100 मीटर दूर झाड़ियों में ले गया। वहीं उसने किशोरी के साथ पहले जबरन दुष्कर्म किया और फिर पहचान लिए जाने के डर से उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी। यही नहीं बल्कि शव को छिपाने के उद्देश्य से उसके ऊपर मिट्टी भी डाल दी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में न सिर्फ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है बल्कि किशोरी की स्वांस नली में मिट्टी भरी पाई गई जो उसकी मौत का कारण बन गयी। आरोपी जितेंद्र पर तथा उपरोक्त घटना के सफल अनावरण एवं अभियुक्त की गिरफ्तारी में सम्मिलित टीम को उत्साहवर्धन हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने 25 हजार रुपये के पुरुस्कार से पुरुस्कृत किया है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!