बिल्सी

मृत ब्लाक कर्मी का फंड, बोनस आदि हड़पने के लिए मकान मालकिन ने बतौर पत्नी दर्ज कराया नाम, रिपोर्ट दर्ज

बदायूं। ब्लॉक अम्बियापुर में तैनात रहे खंड विकास अधिकारी की मृत्यु के उपरांत फंड और बोनस आदि हड़पने के लिए मकान मालिक महिला उनकी पत्नी ही बन गई। उनकी मृत्यु की उनके परिवार वालों को सूचना भी नहीं दी और चुपचाप उनका अंतिम संस्कार कर दिया। जब इसके बारे में उनकी पत्नी को जानकारी हुई तो उसने न्यायालय की शरण लेकर मकान मालिक महिला के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

बताया जाता है कि उत्तराखंड के जिला उधमसिंह नगर में नगर पंचायत शक्तिगढ़ निवासी रेखारानी विश्वास के मुताबिक उसके पति महानंद विश्वास बिल्सी ब्लॉक में खंड विकास अधिकारी के पद पर तैनात थे। वह कस्बे के वार्ड नंबर एक में राखी उर्फ रामबेटी पत्नी नत्थू के मकान में किराये पर रहते थे। 22 मई 2021 को उनकी अचानक बिल्सी में मृत्यु हो गई थी। इस पर मकान मालिक राखी ने उसे सूचना ही नहीं दी और चुपचाप उनका अंतिम संस्कार कर दिया। इसके बाद उसने अभिलेखों में रेखा नाम के स्थान पर अपना नाम राखी दर्ज करा दिया।

मृतक की पत्नी काआरोप है कि राखी ने उनका फंड और बोनस हड़पने को फर्जी रूप से कागजात तैयार कराए। जब इसकी जानकारी रेखा को हुई तो वह बिल्सी थाने पहुंची। उसने पुलिस को तहरीर दी लेकिन पुलिस ने एफआईआर दर्ज नहीं की। रेखा रानी ने न्यायालय में शरण लीऔर कोर्ट के आदेश पर मंगलवार रात पुलिस ने राखी उर्फ रामबेटी पत्नी नत्थू के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली। अब थाना पुलिस मामले की बारीकी से पड़ताल कर रही है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!