उझानी

खेत की रखवाली के दौरान नलकूप में सो रहे युवक की संदिग्धावस्था में मिली लाश, फैली सनसनी

उझानी। कोतवाली क्षेत्र के गांव बुर्रा फरीदपुर में एक युवक की लाश उसके नलकूप में संदिग्धावस्था में मिलने से परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों की सूचना पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल करने के बाद शव को पीएम के लिए भेज दिया है। पुलिस युवक की मौत करंट से होना बता रही है लेकिन युवक के चेहरे पर चोट के निशान गांव में चर्चा का विषय बना हुआ है।

गांव बुर्रा फरीदपुर निवासी अहिवरन का 28 वर्षीय पुत्र श्रीपाल रात में अपने नलकूप पर रुक कर फसल की रखवाली करता था। बताते है कि रोज की तरह श्रीपाल रविवार को खाना खाने के बाद नलकूप पर सोने चला गया। बताते है कि सोमवार की सुबह जब श्रीपाल घर नही तब उसका बड़ा भाई जिरंग सिंह उसे बुलाने नलकूप पर पहुंचा तब तख्त के नीचे श्रीपाल की लाश देख कर उसके होश उड़ गए और उसने अपने परिजनों को घटना की जानकारी दी तब परिजन रोते बिलखते मौके पर पहुंच गए। बताते है कि परिजनों की सूचना पर पुलिस पहुच गई और पड़ताल शुरु कर दी। मृतक के चेहरे पर चोट के निशान देख कर पुलिस किसी नतीजे पर नही पहुंची तब उसने सबूत जुटाने को फॉरसिक टीम बुला ली। युवक मौत के बाद परिजन किसी भी रंजिश से इंकार कर रहे है जिससे युवक की मौत का कारण संदेह पैदा कर रहा है। पुलिस ने शव का पीएम करा कर परिजनो को सौंप दिया है। युवक की मौत से बुजुर्ग माता पिता समेत सभी परिजन आहत है। बताते है कि श्री की पत्नी की मौत हो चुकी हैं जिससे वह रात में खेत पर रुकता था। इस मामले में जानकारी करने पर प्रभारी निरीक्षक हरपाल बालियान ने स्पष्ट कहा कि युवक की मौत करंट से हुई है। ग्रामीणों का कहना है कि अगर श्रीपाल की मौत करंट से हुई है तो पुलिस ने फॉरेंसिक टीम क्यों बुलाई?

Leave a Reply

error: Content is protected !!