उझानी

फांसी का शोर, पीएम रिपोर्ट में आई गला दवा कर हत्या, पुलिस ने की जांच शुरू, फॉरेंसिक टीम ने जुटाएं साक्ष्य

उझानी,(बदायूं)। कोतवाली क्षेत्र के गांव गठौना में रविवार को एक युवक के पुलिस कार्रवाई के डर से फांसी का शोर हुआ दरअसल उसकी गला दवा कर हत्या की गई थी। युवक की हत्या के वक्त पत्नी कोतवाली में होने का दावा कर रही थी। पुलिस ने शव का पीएम कराया तब उसमें युवक की गला दवा कर हत्या की रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने अपनी पड़ताल शुरू कर दी है। पुलिस ने अज्ञात हत्यारे तक पहुंचने के लिए सोमवार को फॉरेंसिक टीम को युवक के घर भेजा जहां टीम ने साक्ष्य जुटाने के लिए घर के अंदर से कई नमूने लिए है।

रविवार को गांव गठौना निवासी प्लंबर युवक लेखराज पुत्र नन्हें जाटव की लाश मिलने पर उसके परिजनों ने पत्नी से विवाद के बाद पुलिस कार्रवाई से डर कर फांसी लगाने की बात कही थी। पुलिस ने लेखराज के शव का पीएम कराया तब उसमें युवक की गला दवा कर हत्या करने की रिपोर्ट ने पुलिस को चौंका दिया। पीएम रिपोर्ट में युवक के पैरों में भी चोट के निशान मिलने की बात कही जा रही है। पुलिस ने युवक की रहस्यमय तरीके से हुई हत्या के बाद अपनी जांच पड़ताल शुरू कर दी है। पुलिस जल्द से जल्द युवक के हत्यारे तक पहुंचना चाहती है। सोमवार को पुलिस ने मृतक के घर फॉरेंसिक टीम को भेजा। टीम ने घर के अंदर से कई नमूने उठाएं है ताकि हत्या का साक्ष्य जुटाया जा सके। इस मामले में पुलिस का अनुमान है कि लेखराज की हत्या उसके किसी नजदीक रहने वाले ने ही की है।
यहां बताते चले कि हरियाणा में रह कर प्लंबर का काम करने वाले गठौना निवासी लेखराज का शनिवार की रात अपनी पत्नी से विवाद हो गया जिस पर उसकी पत्नी ने पुलिस को बुला लिया तब पुलिस ने उसे नशे की हालत में देख कर उसे समझाते हुए एक दो थप्पड़ मार दिया और उसकी पत्नी को सुबह कोतवाली बुलाया। पत्नी रविवार की सुबह कोतवाली पहुंची लेकिन बीच उसके पति की मौत हो गई। पत्नी लौटी तब उसके पति का शव जमीन पर था। जब उसने मालूम किया तब परिजनों ने बताया कि लेखराज ने फांसी लगा ली है। इस मामले में जानकारी करने पर प्रभारी निरीक्षक शैलेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि आज फॉरेंसिक टीम से साक्ष्य जुटाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जल्द ही इस हत्या का राजफाश किया जाएगा।

Leave a Reply

error: Content is protected !!