उझानीजनपद बदायूं

उझानी-कासगंज रेलमार्ग पर यात्री गाड़ी की चपेट में आकर शिक्षक की पत्नी की मौत

उझानी(बदायूं)। उझानी-कासगंज रेलमार्ग पर कार्तिक पूर्णिमा पर यात्री गाड़ी की चपेट में आ कर एक महिला की मौत हो गई। मृतका के शव की शिनाख्त लगभग डेढ़ घंटे बाद उसके शिक्षक पति और अन्य परिजनों ने की। पुलिस ने हादसे की सूचना पर शव को अपने कब्जें में लेकर पीएम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। महिला की मौत पर उसके परिवार में कोहराम मचा गया है।

नगर के मौहल्ला नझियाई निवासी एमजीपी इंटर कालेज में शिक्षक हरिबाबू की पत्नी श्रीमती ऊषारानी रोजाना की तरह सोमवार की तड़के अपने घर से टहलने के लिए निकली थी। बताते हैं कि गौशाला रेल फाटक के आसपास टहलते वक्त लगभग साढ़े सात बजे वह कासगंज से बरेली की ओर जा रही लालकुंआ पैसिंज की चपेट में आ गई जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। बताते हैं कि चालक ने रेलगाड़ी को रोक लिया और फिर जीआरपी तथा गार्ड ने मृतका के शिनाख्त के प्रयास किए मगर वह सफल न हो सके। बताते हैं कि मृतका की शिनाख्त न होने पर जीआरपी एवं गार्ड शव को गाड़ी में रख कर रेलवे स्टेशन ले आए और स्टेशन मास्टर को सूचना दी तब स्टेेशन मास्टर ने शव को प्लेटफार्म पर रखवा दिया।

इधर जब ऊषा देवी अपने घर नही पहुंची तब परिजनों ने उनकी खोजबीन शुरू की। परिजनों को जब जानकारी हुई कि एक महिला रेल की चपेट में आकर मौत का शिकार बन चुकी है तब वह रेलवे स्टेशन पहुंचे और शव की शिनाख्त की। परिजनोें ने हादसे की सूचना पुलिस को दी जिस पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव अपने कब्जें में लेकर पीएम को भेज दिया है। महिला की मौत से शिक्षक के परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!