उत्तर प्रदेश

लखनऊ के सरकारी स्कूल में नया प्रयोगः अग्रेजी वर्णमाला में पौराणिक, ऐतिहासिक नामों का जिक्र

लखनऊ.। उत्तर प्रदेश के लखनऊ स्थित एक सरकारी स्कूल में अनोखा प्रयोग किया गया है. यहां बच्चों को अंग्रेजी वर्णमाला के अक्षरों का ज्ञान देते हुए भारतीय ऐतिहासिक और पौराणिक जानकारियां भी सिखाई जा रही हैं. इस नई अग्रेजी वर्णमाला में ए से अर्जुन, बी से बलराम, सी से चाणक्य, डी से धु्रब, ई से एकलव्य, चार वेदों के लिए, गायत्री के लिए, हनुमान के लिए, इंद्र के लिए है।

इस बारे में जानकारी देते हुए अमीनाबाद इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल साहेब लाल मिश्रा ने कहा कि छात्रों को भारतीय संस्कृति के बारे में कम जानकारी है, इसलिए हमने उनके ज्ञान को बढ़ाने के लिए ऐसा किया है. स्कूल द्वारा बनाए गए नए अग्रेजी वर्णमाला चार्ट में न केवल नाम हैं और पौराणिक और ऐतिहासिक शख्सियतों के प्रतीक चित्रों को उनके विवरण के साथ साझा किया गया है.

प्रिंसिपल साहेब लाल मिश्रा ने बताया कि हमारे वर्णमाला चार्ट में अर्जुन के लिए है तो हमने एक प्रतीकात्मक फोटो भी लगाई है. ताकि बच्चे इससे रिलेट कर सकें और समझ सकें कि अर्जुन महाभारत का महान योद्धा है. इस फोटो के साथ ही उसका ऐतिहासिक और पौराणिक महत्व भी बताया गया है. उदाहरण के लिए, अर्जुन को एक ‘महान योद्धा’ और चाणक्य को ‘आदर्श शिक्षक’ के रूप में वर्णित किया गया है. बच्चों को अंग्रेजी के अन्य शब्द और व्याकरण भी पढ़ाई जा रही है।

अंग्रेजी भाषा के लिए सिलेबस के आधार पर परंपरा के अनुसार पढ़ाया जा रहा है. यह इंटर कॉलेज ( स्कूल) नगर निगम द्वारा संचालित है और 1897 में स्थापित किया गया था।

Leave a Reply

error: Content is protected !!