संभल

संभल पुलिस और भाजपा नेता का खौफः एक परिवार ने पलायन के साथ मकान बिकाऊ का लगाया पोस्टर

संभल। भाजपा के एक नेता और पुलिस का खौफ संभल एक परिवार पर इतना चढ़ा कि उसने पलायन करने की ठान ली और इसके लिए भाजपा नेता को जिम्मेदार बताते हुए मकान बिकाऊ और भाजपा नेता के कारण पलायन करने का पोस्टर अपने मकान पर चस्पा कर दिया। भाजपा नेता से पांच अक्टूबर को हुआ था विवाद हुआ था। परिवार के सदस्य सीएम योगी तक अपनी बात पहुंचाने के लिए जुगत में लग गए हैं। इस मामले की विवेचना एसपी ने बहजोई थाना को दी है।

शहर निवासी अंशू शर्मा का बीते पांच अक्ब्टूबर को किसी बात को लेकर भाजपा के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष राजेश सिंघल खन्ना से विवाद हो गया था जिसमें अंशू शर्मा को जेल तक जाना पड़ा। इसके बाद से अंशू समेत उसके परिवार पर भाजपा नेता और पुलिस का खौफ चढ़ गया। बताते हैं कि जेल से आने के बाद अंशू ने अपने घर पर मकान बिकाऊ है का पोस्टर चस्पा कर दिया जिसमें पलायन की बात कहते हुए उसने भाजपा नेता तथा पुलिस को इसका कारण बताया है।

बताते हैं कि जब इस विवाद की जानकारी एसपी संभल को हुई तो वह कोतवाली पहुंचे और दोनों पक्षों से बात की। एसपी ने पीड़ित परिवार को पूरी सुरक्षा और न्याय देने का आश्वासन देते हुए विवाद की विवेचना संभल के बजाय बहजोई थाना पुलिस के हवाले कर दी है। चर्चा है कि एसपी से मिलने के बाद एक वीडियो भी वायरल हुआ है जिसमें अंशू की पत्नी दीपा सीएम योगी से मिलने लखनऊ जाने की बात कह रही है साथ ही कह रही है कि उक्त मकान उसके सास ससुर जल्द बेंच देंगे और हम सब कही दूसरी जगह बस जाएंगे।
इस पूरे प्रकरण में भाजपा क्षेत्रीय उपाध्यक्ष राजेश सिंघल का कहना है कि अंशू ने मेरे ऊपर गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया था। पुलिस ने एक को पकड़कर जेल भेज दिया है। पुलिस अपना काम कर रही है। किसी को पलायन करने की जरूरत नहीं है। अंशु शर्मा शराब पीकर हंगामा करता है जबकि उसका परिवार अच्छा है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!