जनपद बदायूं

डीएम ने क्रॉप कटिंग कराकर ली उत्पादन की जानकारी

बदायूं। जिलाधिकारी के निरीक्षण में होने वाली क्राप कटिंग में जिलाधिकारी दीपा रंजन ने उप जिलाधिकारी सदर सुखलाल प्रसाद वर्मा के साथ शुक्रवार को ब्लॉक उझानी के ग्राम बसोमा पहुचंकर धान की क्रॉप कटिंग कराई।

डीएम ने खेत का नक्शा, खसरा, रजिस्टर आदि भू अभिलेखों की जांच करते हुए किसानों से बोई गई धान के बीज के बारे में जानकारी ली। उन्होंने किसानों से कहा कि वह नजदीकी सरकारी क्रय केंद्र पर ही अपना धान बेंचे, जिससे उन्हें उचित मूल्य मिल सके, किसी बिचैलिए के बहकावे में न आए। दैविय आपदा में होने वाले नुकसान की भरपाई के फसल बीमा अवश्य कराएं।

डीएम ने ग्राम बसोमा निवासी किसान पन्नालाल के 10 वाई 10 त्रिभुजाकार क्षेत्रफल के खेत में जाकर अपने सामने ही धान की फसल की क्रॉप कटिग कराई। इसके बाद उन्होंने धान की मड़ाई कराकर उसकी तौल भी कराई, जिसका वजन 16 किलो 400 ग्राम प्राप्त हुआ। उन्होंने किसानों से पराली न जलाने की अपील भी की। क्रॉप कटिंग के प्रयोग के आधार पर जनपद में औसत उपज और उत्पादन के आंकड़े तैयार किए जाते हैं, जिससे जिले में हो रहे उत्पादन की सटीक जानकारी हासिल हो जाती है। क्रॉप कटिंग के प्रयोग से प्राप्त उत्पादन के आंकड़ों के आधार पर किसानों के फसल में होने वाले नुकसान का आकलन एवं फसल बीमा की क्षतिपूर्ति राशि निर्धारित की जाती है।

प्रत्येक ग्राम पंचायत में चार खेत रैण्डम विधि से चयनित किए जाते हैं। एक गांव में दो खेत क्रॉप कटिंग के लिए चुने जाते हैं। उपज से सम्बंधित अंतिम आंकड़े परीक्षण के उपरांत राज्य स्तर पर कृषि एवं सांख्यिकी निदेशालय जारी करता है। राजस्व निरीक्षक ओमकार सिंह, लेखपाल प्रदीप कुमार, गगन पटेल एवं शैलेंद्र सिंह फसल बीमा कंपनी इफको टोकियो के तहसील समन्वयक, कृषि विभाग से क्षेत्रीय कर्मचारी व गांव के किसान मौजूद रहे।

Leave a Reply

error: Content is protected !!